कृषि Class 10th Geography Chapter 4 (RCSCE Question Bank 2024 Complete Solution)

हम “कृषि” के सभी ऑबजेकटिव , छोटे ऐन्सर वाले प्रश्न और लघुतरात्मक और अति लघूत्तरात्मक प्रश्नों का जवाब देने वाले हैं , हम आपको इसके सोल्यूशंस के साथ साथ आपको इसका पीडीएफ़ फाइल भी अंतिम रूप से देंगे और आप राजस्थान बोर्ड क्लास 10th Samajik Vigyan Complete solution pdf 2024 जो की Shala darpan Class 10th pdf 2024 के द्वारा जारी किया गया पीडीएफ़ हैं , इसके सभी सवालों का जवाब आपको इस पोस्ट के जरिए मिलने वाला हैं , krishi class 10th rcsce question bank solution pdf, class 10th geography chapter 4 important questions,

krishi, class 10th samaijk vigyan chapter 4 solution rcsce question bank 2024,

अति लघुत्तरात्मक प्रश्न

QuestionsAnswers
1. हमारे देश में उगाये जाने वाले प्रमुख मोटे अनाज कौन-कौनसे है?बाजरा, ज्वार, रागी, कंगनी, कुटकी, कोदो, सवां और चेना
2. ज्वार व बाजरा उत्पादन करने वाले अग्रणी राज्यों के नाम लिखिए।राजस्थान, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, गुजरात और हरियाणा
3. जायद की प्रमुख फसलों के नाम लिखिए।उदाहरण: तरबूज, खीरा,खरबूजा ककड़ी, मूंग, उड़द, सूरजमुखी इत्यादि
4. झूम कृषि से आप क्या समझते है?एक आदिम प्रकार की कृषि है जिसमें पेड़ों को काट कर जला दिया जाता है और साफ की गई भूमि पर पुराने उपकरणों से जुताई करके खेती की जाती है ।
5. रोपण कृषि से आप क्या समझते हैं?वाणिज्यिक कृषि का ही एक प्रकार है जहाँ चाय, कॉफी, काजू, रबड़, केला, कपास आदि की एकल फसल उगाई जाती है
6. आर्गेनिक कृषि (जैविक कृषि) आप क्या समझते है?कृषि की वह विधि है जो संश्लेषित उर्वरकों एवं संश्लेषित कीटनाशकों के अप्रयोग या न्यूनतम प्रयोग पर आधारित है तथा जो भूमि की उर्वरा शक्ति को बनाए रखने के लिये फसल चक्र, हरी खाद, कम्पोस्ट आदि का प्रयोग करती है
7. हमारे देश की दो प्रमुख पेय फसलों के नाम लिखिए।चाय तथा कहवा
8. हमारे देश की मुख्य रेशेदार फसलों के नाम लिखिए।रेशे वाली फसलें – जूट, सनई, कपास आदि।
9. सर्वाधिक गन्ना उत्पादक राज्य का नाम लिखिए।उत्तर प्रदेश
10. हमारे देश की तीन शस्य ऋतुओं के नाम बताइये।रबी, खरीफ और ज़ायद
11. हमारे देश में बाजरा उत्पादक मुख्य राज्य कौनसा है?राजस्थान
12. रबी की किन्हीं चार फसलों के नाम लिखिए।गेहूँ, जौ, सरसों (रेपसीड), जई, चना, अलसी आदि
13. खरीफ की किन्हीं चार फसलों के नाम लिखिए।कपास, मूंगफली, धान, बाजरा, मक्‍का, शकरकन्‍द
14. चार तिलहन फसलों के नाम लिखिए।                    राई, सरसों, तिल, मूंगफली
15. चार दलहन फसलों के नाम लिखिए।मटर, चना, मसूर,राजमा,उडद,
16. जायद की फसल के बारे में आप क्या जानते है? इन्हें कब बोया जाता है?जायद की फसलों में शुष्क हवाएं और तेज गर्मी सहन करने की क्षमता होती हैं। इसलिए उत्तर भारत में मार्च-अप्रैल में जायद की फसलें बोई जाती हैं। इनकी कटाई जून में होती हैं। जायद की मुख्य फसलें – तरबूज, खीरा,खरबूजा ककड़ी, मूंग, उड़द, सूरजमुखी इत्यादि।
17. हमारे देश में कपास उत्पादक दो मुख्य राज्यों के नाम लिखिए।गुजरात> महाराष्ट्र> तेलंगाना > आंध्र प्रदेश> राजस्थान।
18. भारत में अधिकांश लोगों का प्रमुख खाद्यान कैनसा है?चावल और गेहूं भारत की प्रमुख खाद्य फसलें हैं।

लघुत्तरात्मक प्रश्न

QuestionsAnswers
1. रबी व खरीफ की फसलों में अंतर लिखिए।चूँकि खरीफ की फसल अक्टूबर नवंबर में तैयार होती हैं जिस समय पतझड़ होता है अतः इस दौरान तैयार होने वाली फसलों को भी पतझड़ की फसल यानि खरीफ कहा गया। रबी फसलें वे फसलें हैं जिन्हें जाड़ों के मौसम में उगाया जाता है। रबी फसल मार्च अप्रैल में तैयार हो जाती हैं और तब इनकी कटाई होती है।
2. कृषि आधुनिकीकरण के लिए कौन-कौनसे कदम उठाये गये?भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद, कृषि विश्वविद्यालय, पशुओं की नस्ल सुधारने के केन्द्रों को स्थापित किया है सरकार ग्रामीण बाजारों का अन्तर्राष्ट्रीय बाजार से संबंध बनाने के लिए ग्रामीण अधिसंरचना में निवेश कर रही है किसान क्रेडिट कार्ड, व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना भी शुरू की है। (iv) व्यापक भूमि विकास कार्यक्रम शुरू किए गए हैं।
3. भूदान आंदोलन से आप क्या समझते है?यह आंदोलन भारत के कई हिस्सों में सफल रहा, हज़ारों एकड़ भूमि ज़मींदारों द्वारा दान की गई। आचार्य विनोबा भावे द्वारा सन् 1951 में आरम्भ किया गया स्वैच्छिक भूमि सुधार आन्दोलन था
4. रबड़ की कृषि के लिए आवश्यक भौगोलिक परिस्थितियों का वर्णन कीजिए।रबर की खेती के लिए आर्द्र और नम जलवायु की जरूरत होती है जहाँ 200 सेमी से अधिक वर्षा होती हो और 25°C से अधिक तापमान रहता हो।
5. गेहूँ उत्पादन के लिए कौनसी भौगोलिक परिस्थितियाँ अनुकूल है?गेहूँ की खेती के लिए समशीतोषण जलवायु की आवश्यकता होती है, इसकी खेती के लिए अनुकूल तापमान बुवाई के समय 20-25 डिग्री सेंटीग्रेट उपयुक्त माना जाता है,  दोमट भूमि सर्वोत्तम मानी जाती है
6. गहन कृषि के बारे में आप क्या जानते है?कृषि उत्पादन की वह प्रणाली है जिसमें कम जमीन में अधिक परिश्रम, पूँजी, उर्वरक या कीटनाशक आदि डालकर अधिक उत्पादन लिया जाता है।
7. वाणिज्यिक कृषि से आप क्या समझते है?वाणिज्यिक कृषि से तात्पर्य ऐसी फसलों की कृषि करने से है, जिनका उपयोग व्यापारिक कार्यों के लिए किया जाता है।
8. ‘‘कर्त्तन दहन’’ प्रणाली से आप क्या समझते है?कर्तन-दहन प्रणाली की कृषि एक प्रकार की स्थानांतरित कृषि है जिसमें खेती के लिए जमीन को साफ करने के लिए प्राकृतिक वनस्पतियों को काटकर जला दिया जाता है और फिर किसान एक किसी नए भूखंड में चला जाता है और जब भूखंड अनुपजाऊ हो जाता है तो प्रक्रिया को दोहराता है। यह प्रक्रिया बार-बार दोहराई जाती है।
9. बाजरा उत्पादन की अनुकूल दशाओं पर प्रकाश डालिए।यह गर्मी पसंद पौधा है और इसके अंकुरण के लिए न्यूनतम तापमान 8- 10 डिग्री सेल्सियस की आवश्यकता होती है। विकास के दौरान 26-29 डिग्री सेल्सियस का औसत तापमान रेंज उचित विकास और अच्छी फसल उपज के लिए सर्वोत्तम है। यह वहां उगाया जाता है जहां वर्षा 500-900 मिमी तक होती है।
10. कपास उत्पादन के लिए कोई चार अनुकूल दशाएँ लिखिए।कपास की फसल के विकास के लिए कम से कम 16 डिग्री सेल्सियस और अंकुरण के लिए 32 से 34 डिग्री सेल्सियस तापमान की आवश्यकता होती हैं। कपास के पौधे (Cotton Plant) 21 से 27 डिग्री फ़ारेनहाइट के तापमान पर इनकी सबसे अच्छी बढ़वार होती हैं।
QuestionsAnswers
1. हमारे देश की तीन शस्य ऋतुओं के बारे में संक्षेप में लिखिए।भारत में शस्य ऋतु यानी फसलों की दृष्टि से 3 ऋतुएं पाई जाती हैं। रबी की फसल, खरीफ की फसल और जायद की फसल। रबी की फसल अक्टूबर से दिसंबर में बोई जाती है और इसकी कटाई अप्रैल-मई में की जाती है। रबी की फसलों में गेहूँ, चना, जौ, सरसों, मटर, आलू आदि की फसलें प्रमुख हैं।
2. जीविका कृषि की प्रमुख विशेषताएँ बताइये?छोटी पूंजी/वित्त आवश्यकताएं, मिश्रित फसल, कृषि रसायनों का सीमित उपयोग (जैसे कीटनाशक और उर्वरक) फसलों और जानवरों के असुधारित प्रकार बिक्री के लिए बहुत कम या कोई अधिशेष उत्पाद, कच्चे/पारंपरिक उपकरणों का उपयोग निर्वाह कृषि के सभी पहलू हैं (जैसे कुदाल, माचे, और कटलस)
3. हमारे देश की अर्थव्यवस्था में कृषि के महत्व को स्पष्ट कीजिए?यह क्षेत्र न केवल भारत की जीडीपी में लगभग 15% का योगदान करता है बल्कि भारत की लगभग आधी जनसंख्या रोज़गार के लिये कृषि क्षेत्र पर ही निर्भर है। यह क्षेत्र द्वितीयक उद्योगों के लिये प्राथमिक उत्पाद भी उपलब्ध करवाता है।
4. वाणिज्यिक कृषि की प्रमुख विशेषताओं को संक्षेप में लिखिए।विस्तृत वाणिज्यिक अनाज कृषि की निम्न विशेषताएँ हैं – इस प्रकार की कृषि विस्तृत भू-जोतों पर की जाती है। … इस कृषि में खेत तैयार करने से फसल काटने तक का समस्त कार्य मशीनों के द्वारा किया जाता है। … इस प्रकार की कृषि की मुख्य फसल गेहूं है। … खाद्यान्नों को सुरक्षित रखने के लिए बड़े-बड़े माल गोदाम बनाए जाते हैं।  
5. गन्ना उत्पादन की अनुकूल दशाओं पर प्रकाश डालिए।गन्ने की बुवाई के समय 30-35 डिग्री सेंटीग्रेट तापमान होना चाहिए, साथ ही वातावरण शुष्क होने पर बुवाई करनी चाहिए, गन्ना की खेती सभी प्रकार की भूमि में की जा सकती हैं, लेकिन दोमट भूमि सर्वोतम मानी जाती है, गन्ने के खेत में जल निकास की अच्छी व्यवस्था होनी चाहिए,
6. हमारे देश में आजादी के बाद कृषि क्षेत्र में हुये सुधारों को संक्षेप में लिखिए।( i ) बिचौलियों का उन्मूलन । ( ii ) काश्तकारी सुधार । ( iii ) भूमि अधिग्रहण के लिए भूमि जोतों की सीमा का निर्धारण ।
7. सरकार द्वारा किसानों के हित में किये गये संस्थागत सुधारों के बारे में अपने विचार लिखिए।भारतीय कृषि में सुधार के लिए भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् व कृषि विश्वविद्यालयों की स्थापना, पशु चिकित्सा सेवाएँ और पशु प्रजनन केन्द्र की स्थापना, बागवानी विकास, मौसम विज्ञान और मौसम के पूर्वानुमान के क्षेत्र में अनुसंधान और विकास की वरीयता दी गई।
8. भारत में घटते खाद्य उत्पादन के लिए उत्तरदायी प्रमुख कारकों का वर्णन कीजिए।पहले के दशकों में लोग मुख्य रूप से कृषि पर ही निर्भर थे लेकिन अब लोग विभिन्न कारणों से कृषि छोड़ रहे हैं। किसानों के हिस्से में अब जमीनें कम हो गईं है जिसका सीधा असर खाद्य उत्पादन पर हुए है।  
9. मोटे अनाज पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए?मोटा अनाज starch का बढ़िया स्रोत है, जो इसे उच्च ऊर्जा वाला भोजन बनाता है। मोटा अनाज प्रोटीन और फाइबर का उत्कृष्ट स्रोत है। Millet शुक (arid) और अर्ध-शुष्क (semi-arid) यानि सूखे क्षेत्रों में अच्छी पैदावार देता है और इसमें कीट पतंगे भी जयादा नुकसान नहीं करते हैं। इसका बीज कम मात्रा में उचित पैदावार देता है.
10. भारत में दलहन की फसल के मुख्य बिन्दु लिखिए?चना सबसे प्रमुख दलहन है जिसकी कुल उत्पादन में हिस्सेदारी लगभग 40% है, इसके बाद तुअर/अरहर की हिस्सेदारी 15 से 20% तथा उड़द/ब्लैक मेटपे एवं मूंग दलहन की हिस्सेदारी लगभग 8-10% है। हालाँकि दलहन का उत्पादन खरीफ तथा रबी दोनों सीज़न में किया जाता है, रबी सीज़न में उत्पादित दलहन का कुल उत्पादन में 60% से अधिक का योगदान है।

निबन्धात्मक प्रश्न

1. भारतीय कृषि पर वैश्वीकरण के प्रभाव को स्पष्ट कीजिए।

2. चावल की खेती के लिए उपर्युक्त भैगोलिक परिस्थितियों का वर्णन कीजिए।

3. भारत में पैदा होने वाली प्रमुख खाद्यान फसलों का विस्तार से वर्णन कीजिए।

4. मानचित्र में चावल उत्पादक राज्यों को अंकित करो – पश्चिम बंगाल ;पंजाब ;हरियाणा ;उत्तरप्रदेश ;आंध्रप्रदेश

5. ‘‘प्रौद्योगिकीय और संस्थागत सुधार’’ पर एक निबंध लिखिए।

Download Pdf

RCSCE Question Bank Class 10th Samaijk Vigyan 2024Download pdf
Download this answer Key as PdfDownload Now

Read also

Class 10th English RCSCE Question Bank Complete SolutionRead here
Class 10th Hindi RCSCE Question Bank Complete SolutionRead here
Class 10th Science RCSCE Question Bank Complete SolutionRead here
Class 10th Samajik Vigyan RCSCE Question Bank Complete SolutionRead here
Class 10th Mathematics RCSCE Question Bank Complete SolutionRead here
Class 10th Sanskrit RCSCE Question Bank Complete SolutionRead here